अखरोट – पहचान, गुण धर्म, प्रयोग मात्रा एवं प्रयोग विधि !!

loading...

आज हम आपको अखरोट के बारे में विस्तार से बताने जा रहें हैं. आइये जाने इसकी पहचान, गुण धर्म, प्रयोग मात्रा एवं प्रयोग की विधि.

खरोट पोष्टिक तत्वों का खज़ाना

इस तरह के ड्रायफ्रूट और इसके अखरोट के तेल के उपयोग से बालों को लंबा, घना और काला बनाया जाता है. त्वचा को स्वस्थ और मुलायम बनाया जाता है, और यह कई तरह से हमारे शरीर की सुंदरता को बढ़ाता है. और उसकी देखभाल करता है साथ ही साथ यह स्वास्थ्य स्वास्थ्य को भी बढ़ाता है.

और यह हमारे शरीर स्किन और बालों में होने वाले समस्याओं को दूर करता है. कई न्यूट्रिशियन इसके बारे में लिखे हुए हैं अखरोट ड्राई फ्रूट होने के बावजूद भी इसमें बहुत ही कम मात्रा में सोडियम और कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है, लेकिन इसमें भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फाटिंग ऐसीडस होता है. शरीर के लिए काफी लाभदायक है. इस पोस्ट में आपको बताएँगे की अखरोट कैसे खाना चाहिए.

इसके अलावा इसमें कई प्रकार के विटामिन होते हैं जैसे कि विटामिन ए विटामिन बी सी विटामिन B12, विटामिन C विटामिन D, विटामिन A और भी कई विटामिंस होते हैं इसलिए इसे विटामिन का राजा भी कहा जाता है. और इसमें बहुत अधिक मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है. प्रोटीन के अलावा अखरोट में जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन फास्फोरस, कॉपर, सेलेनियम, मैग्नीशियम बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं.

और इन्हीं कारणों से अखरोट में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं. जैसा कि आप जानते हैं कि अखरोट में कई प्रकार के मिनरल्स, प्रोटीन और विटामिन होते हैं और अखरोट में ढेर सारे न्यूट्रेंस भी पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होते हैं.

loading...