आलू प्याज़ बेचने वाले की बेटी बनी अफसर, ख़ुशी से फूट फूटकर रोने लगे पिता, वीडियो वायरल…!

बिहार के सारण जिले में आने वाले मढौरा खुर्द में आलू-प्याज बेचकर किसी तरह परिवार चलाने वाले की बिटिया अफसर बनने जा रही है। यहां के रहने वाले अनिरुद्ध प्रसाद गुप्ता सबसे छोटी बेटी जूही कुमारी के 66वीं बीपीएससी परीक्षा पास करने से काफी खुश हैं।

उनका सीना गर्व से चौड़ा है। वह रह-रहकर बेटी को सैल्यूट करते हैं। आस पड़ोस में बेटी का बखान करते कभी वह भावुक हो जा रहे हैं तो कभी आंखों में चमक दिखने लगती है। बिटिया के अफसर बनने की खबर जब से मिली है परिवार और गांव में जश्न मनाया जा रहा है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

अनिरुद्ध कुमार कहते नहीं थक रहे कि अब मैं भी एक अफसर का पिता बन गया हूं। मेरी बेटी ने तो कमाल ही कर दिया है।

तीसरे अटेम्‍प्‍ट में मिली सक्सेस

4 अगस्त, 2022 को जब बिहार लोक सेवा आयोग की 66वीं परीक्षा का रिजल्ट आया तो उसमें जूही कुमारी का भी नाम था। उन्हें 307वीं रैंक मिली। रिजल्ट में अपना नाम देख जूही खुशी से झूम उठी और बात जब माता-पिता तक पहुंची तो मानों उन्हें सारी खुशियां मिल गई हो।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

जूही का यह तीसरा अटेम्प्ट था, वह दो बार मेंस की परीक्षा तक पहुंची थी लेकिन आगे नहीं जा सकीं थी। इस बार उन्होंने और भी ज्यादा मेहनत की और आखिरकार उन्हें सफलता मिल ही गई। बेटी की सफलता से पूरा परिवार काफी खुश है।

चार भाई-बहनों में जूही सबसे छोटी

जूही कुमारी तीन बहन और एक भाई में सबसे छोटी हैं। उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई मढौरा से ही की और छपरा से ग्रेजुएशन किया है। पिता आलू-प्याज के थोक विक्रेता हैं। जूही ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता और बड़े भाई को दिया है।

जूही का कहना है कि पिता और भाई ने कहीं भी उनका हौसला डगमगाने नहीं दिया। दो बार असफलता मिली लेकिन घरवाले हिम्मत देते रहे, इसी का नतीजा है कि आखिरकार तीसरा बार रिजल्ट में उनका नाम शामिल हो गया।