इन बीजों के 10 फायदें जान दंग रह जाएँगे आप, ये मोटापा और कोलेस्ट्रॉल कम करते है तो हृदय रोग तथा कैंसर से बचाते है, दांत और हड्डियों के लिए संजीवनी है

loading...

चिया सीड, जो कि दिखने में होती है छोटी मगर इसके गुण होते हैं बडे़। चिया सीड को सुपर सीड की श्रेणी में रखा जाता है। इनमें फाइबर और पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है, जो शरीर में जा कर हमारी अंदरूनी ताकत को बनाए रखने में सहायक हैं। इसमें आयरन, प्रोटीन, फाइबर तथा ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है। आईये जानते है इसके और भी कई फायदे….

चिया बीजों के 10 चमत्कारी फायदें :

इनफ्लामेशन : इन बीजों के नियमित सेवन से इनफ्लामेशन यानी सूजन पर नियंत्रण में सहायता मिलती है। यह सूजन शरीर का क्षरण करने वाले कई रोगों का कारक है। वजन कम करने के लिए तुलसी प्रजाति के बीज बहुत सहायक होते हैं, क्योंकि यह आपकी भूख को दबाते हैं।

फ्री रैडीकल्स को बाहर निकाले : ये ओमेगा-3 ऑयल के सबसे बड़े स्रोत हैं। यह ऑयल हृदय तथा कोलेस्ट्रॉल संबंधी समस्याअाें के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इन बीजों में एंटी ऑक्सीडैंट्स भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यह शरीर में से फ्री रैडीकल्स को बाहर निकालने में बहुत सहायक होते हैं। फ्री रैडीकल्स का सीधा संबंध हृदय रोग तथा कैंसर से है।

मस्तिष्क कोशिकाओं और तन्त्रिकीय तन्त्र : ये बीज वनस्पति आधारित प्रोटीन के बहुत बढिय़ा स्त्राेत हैं। ओमेगा-3 वसीय अम्ल मस्तिष्क कोशिकाओं और तन्त्रिकीय तन्त्र को मजबूत कर अल्जीमर्स और पागलपन जैसे रोगो से बचाता है। यह शरीर के तापमान को नियंत्रित रखता है। इसमें लोहा, ओमेगा-3 फैटी एसिड, पोटेशियम और मैग्नीशियम से भरे होते हैं। इन गुणों के चलते ये बीज हमारी अंदरूनी ताकत को बनाए रखने में सहायक होते हैं।

सूजन : चिया के बीजों के नियमित सेवन से सूजन की परेशानी दूर होती है। एक गिलास पानी में एक चम्मच चिया के बीजों आधे घंटे के लिए भिगोएं। आधे घंटे बाद बीजों वाला पानी गाढ़े घोल में बदल जाएगा। इस घोल को पीने से पाचन प्रणाली बहुत ही अच्छी होती है। इससे फाइबर की उच्च मात्रा मिलती है।

मोटापा : वजन कम करने या मोटापा घटाने के लिए चिया यानि तुलसी प्रजाति के बीज बहुत ही लाभदायक होते हैं क्योंकि यह भूख शांत करते हैं। चिया बीजों को भोजन के रूप में इस्तेमाल करने से भूख कम लगती है। ये बीज पानी को अवशोषित करने की क्षमता रखते हैं, जिस कारण ये एक जेल पदार्थ में बदल जाते हैं और मोटापा कम करने में मदद करते हैं। चिया बीज, कैलोरी की कम मात्रा के साथ सभी पोषक तत्वों की कमी को दूर करते हैं।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करना : चिया के बीजों में ओमेगा- 3 ऑयल का गुण पाया जाता है, जो हृदय और कोलेस्ट्रॉल की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। चिया के बीजों में ओमेगा- 3 ऑयल होता है, जो कोलेस्ट्रॉल को शरीर से बाहर निकालता है।

हृदय रोग तथा कैंसर से बचाव : चिया के बीजों में एंटी ऑक्सीडैंट्स पर्याप्त मात्रा में होते हैं, जो शरीर से फ्री रैडीकल्स को बाहर निकालने में मदद करता है। फ्री रैडीकल्स का संबंध हृदय यानि दिल के रोग और कैंसर से होता है। ये बीज ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम करते हुए हृदय को स्वस्थ रखने में बहुत ही लाभकारी सिद्ध होते हैं।

तंत्रिका तंत्र को मजबूत करना : वनस्पति के आधार पर आधार पर चिया के बीज प्रोटीन व आवश्यक अन्य पोषक तत्वों का मुख्य स्रोत हैं। जिनके सेवन से मांसपेशियां, मस्तिष्क कोशिकाएं और तंत्रिका तंत्र को मजबूत होता है। चिया के बीजों का सेवन करने से अल्जाइमर जैसे रोग से छुटकारा मिलता है।

तापमान स्थिर रखना : चिया के बीजों को रोजाना खाने से पर्याप्त पोषण मिलता है साथ ही शरीर का तापमान भी स्थिर रहता है। इसमें आयरन, ओमेगा-3 फैटी एसिड, पोटेशियम, मैग्नीशियम व अन्य के गुण होते हैं। इन गुणों से व्यक्ति को अंदरूनी ताकत को बनाए रखने और सुधारने में मदद मिलती है।

दांत और हड्डियां मजबूत : चिया के बीजों का सेवन करने से 18 फीसदी कैल्सियम की कमी पूरी होती है, जो दांत और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसलिए इन बीजों रोजाना अपने भोजन में शामिल करना चाहिए।

loading...