Home हेल्थ दोपहर में कितनी देर सोना है फायदेमंद, कहीं शरीर को नुकसान तो...

दोपहर में कितनी देर सोना है फायदेमंद, कहीं शरीर को नुकसान तो नहीं पहुंच रहा, जरूर जानें

अगर आपको दिन में सोने की आदत है, तो जान लें कि कितनी देर दोपहर में सोना (din mein sone ke nuksan aur fayde) फायदेमंद है। कहीं आपकी यह आदत शरीर के लिए नुकसानदायक साबित न हो जाए।

अगर आप रात में देर से सोते हैं या रातभर जागते रहते हैं, तो दिन में नींद आना लाजमी है। लेकिन कुछ लोग थकान या आदत के कारण भी दोपहर में सो (Napping) जाते हैं। अक्सर घर संभालने वाली महिलाएं घर का काम खत्म करने के बाद दोपहर में थोड़ी देर सोना पसंद करती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दोपहर में कितनी देर सोना फायदेमंद है और ज्यादा देर तक सोने के क्या नुकसान हो सकते हैं। आइए, इन सभी पहलुओं के बारे में जान लेते हैं।

सबसे पहले जानते हैं कि दोपहर में सोने से क्या फायदे मिलते हैं।

नैपिंग या दिन में सोने के फायदे (Health Benefits of Napping or Day Time Sleeping)
दिन व दोपहर में सोने को अंग्रेजी भाषा में नैपिंग भी कहा जाता है। आपने पावर नैप के बारे में जरूर सुना होगा। इसका मतलब भी दिन में कुछ देर सोना होता है। आइए, दोपहर में सोने के फायदे जान लेते हैं।

रिलैक्स करता है
मूड बेहतर करता है
प्रतिक्रिया देने की क्षमता बढ़ाता है
बातों या जानकारियों को याद करने की क्षमता बढ़ाता है
सतर्कता बढ़ाता है
थकान घटाता है

दोपहर में सोने के नुकसान (Disadvantages of Day Time Sleeping)
दोपहर में सोने से आपको निम्नलिखित नुकसान भी हो सकते हैं। जैसे-

स्लीप इनर्शिया (Sleep inertia) इस स्थिति को कहा जाता है, जिसमें इंसान आधा जगा और आधा सोया हुआ होता है। इस स्थिति में उसकी सोचने-समझने की क्षमता कम हो सकती है। यह स्थिति अक्सर नींद से जागने के तुंरत बाद हो सकती है।
दिन में सोने के कारण आपको रात में नींद न आने की समस्या हो सकती है। अगर आपको रात में इंसोम्निया की दिक्कत है या नींद नहीं आती, तो दोपहर में सोने से यह समस्या और गंभीर हो सकती है।

कितनी देर दोपहर में सोना चाहिए?
शोधकर्ता Rajiv Dhand और Harjyot Sohal द्वारा नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन पर प्रकाशित शोध के मुताबिक दिन में 30 मिनट या उससे कम देर तक सोना ही फायदेमंद होता है। इससे ज्यादा देर तक दोपहर में सोने से आपके शरीर को नुकसान पहुंच सकता है। इसके अलावा एक्सपर्ट्स की राय है कि आपको दोपहर में 3 बजे के बाद नहीं सोना चाहिए। इससे आपको रात में सोने में दिक्कत हो सकती है। साथ ही आपको पावर नैप लेते समय अपने आसपास अंधेरा या शांत माहौल रखना चाहिए।