एक समय सड़कों पर वड़ापाव बेचा करते थे धर्मेश सर, आज सफल डांस गुरु बन कमा रहे हैं करोड़ों रूपये

जीवन में तमाम तरह की तकलीफे आती है. हर दिन हर पल व्यक्ति को नई-नई मुसीबतो का सामना करना पड़ता है. लेकिन इन सब मुश्किलों से जो डटकर लड़ता है व्ही अपने जीवन में सक्सेस हो पाता है.

यह शब्द भारत के मशहूर डांसर कोरियोग्राफर और सबके चहेते बड़ोदरा की शान धर्मेश येलांडे पर सटीक बैठती है. हर कोई उन्हें धर्मेश सर के नाम से जानते है. आज के समय में बहुत से उनके प्रशंशक ऐसे है जो उन्हें भगवान की तरह पूजते है.

 

धर्मेश सर आज के समय में किसी पहचान के मोहताज नहीं है. उन्होंने अपनी प्रतिभा को दुनिया को दिखाकर साबित कर दिया की जीवन में कुछ भी असंभव नहीं है. यदि सच्चे दिल से किसी काम को किया जाए तो कुछ भी असंभव नहीं है.

जन्म

धर्मेश सर का जन्म गुजरात में 31 अक्टूबर 1983 को हुआ था. बड़ोदरा की छोटी-छोटी गलियों से निकलते हुए धर्मेश ने बॉलीवुड में एक अलग ही मुकाम हासिल किया.

कोरियोग्राफर्स के तोर पर पहचान

धर्मेश ने पहले तो अपने डांस स्टाइल से सबको अपना दीवाना बनाया और बॉलीवुड इंड्रस्ट्री में युवा कोरियोग्राफर्स के रूप में अपनी ख़ास पहचान बनाई.

सफल अभिनेता

धर्मेश बेहतरीन डांसर, कोरियोग्राफर्स होने के साथ-साथ एक बेहतरीन एक्टर भी है.

अपना स्टाइल

हिंदी सिनेमा में धर्मेश हिप-हॉप और कंटेम्पररी स्टाइल के लिए काफी फेमस है.

पिता का था चाय का स्टॉल

धर्मेश के पिता बड़ोदरा में टी-स्टॉल (चाय की दूकान) लगाते थे. अपने पिता के साथ धर्मेश ठेले पर पाव बेचा करते थे.

पियून का किया है काम

धर्मेश ने बताया था की वह उनकी स्थिति एक समय ऐसी थी जब उन्हें पियून की नौकरी भी करनीं पड़ी थी.

सपने को रखा जीवित

जीवन में तमाम तरफ की परेशानिया होने के बाद भी धर्मेश अपना सपना भूले नहीं थे. उन्हें हर पल सिर्फ अपने डांसर बनने के सपने का ही ख्याल रहता था.

किसी चीज की नहीं की चिंता

उन्होंने अपने जीवन में कई तरह के काम किये लेकिन उनका सपना और भी पक्का होता जाता था. उन्होंने परिणाम की कभी भी चिंता नहीं की सिर्फ मेहनत करते गए और आगे बढ़ते गए. वह सिर्फ अपने सपने की तरफ हर पल कदम से कदम बढ़ाते थे. उन्होंने रिजल्ट की कभी भी चिंता नहीं की.

जीते शो

अपने जीवन के 18 साल सिर्फ डांस को समय देने वाले धर्मेश सर को उस समय कॉन्फिडेंस मिला जब उन्होंने पहली बार कोई रियलिटी शो जीता.

डांस इंडिया डांस से पहचान

उन्होंने अपनी किस्मत डीआईडी में भी आजमाई लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था. बेटे तो वह इस शो को जित नहीं पाए लेकिन इस शो के बाद उन्हें वह पहचान मिली जिसकी वह बचपन से ख्वाहिश करते आये थे.

बूगी-वूगी शो विनर

डांस इंडिया डांस का खिताब भले ही वह अपने नाम नहीं कर पाए हो लेकिन उन्होंने बूगी-वूगी शो को जीतकर बता दिया की उनके सपने बुलंद है जो सिमित रहने वाले नहीं है. इस शो के बाद वह हर कसी के पसंदीदा डांसर बन गए थे.

डांस इंडिया डांस में जज

किसी ने इस बारे में कभी भी नहीं सोचा था की जिस शो में एक लड़का खुद प्रतियोगी बन कर आया हो वह DID का डांस गुरु बन कर अन्य प्रतिभागियोँ को डांस के गुर सिखा चुके हैं.

फराह खान ने दिया मौका

धर्मेश के जीवन में उस समय परिवर्तन आया जब मशहूर निर्देशक फराह खान ने धर्मेश को तीस मार खान फिल्म के लिए कोरियोंग्राफर हायर किया.

फ़िल्मी करियर की शुरुआत

धर्मेश ने आपने फ़िल्मी कैरियर की शुरुआत रेमो डिसूजा निर्देशित फिल्म एबीसीसीडी से कर हर किसी को अपना दीवाना बना दिया था.

फिल्म इंड्रस्टी करती है सलाम

धर्मेश के टेलेंट को देखकर हर कोई हैरान हो जाता है फ़िल्मी जगत की बड़ी-बड़ी हस्तिया उनके टेलेंट को देखकर उन्हें सलाम करती है.

किया दिलो पर राज

अपनी मेहनत के दम पर धर्मेश आज घर-घर में पहचाने जाते है. हर कोई उनका दीवाना बन गया हैं.

धर्मेश के मुताबिक कई बार रियलिटी शो में अब ऐसे लोग भी जज बन जाते है जिनको डांस का डी तक नहीं आता. अच्छा लगना एक अलग बात है लेकिन उसकी समझ होना वो अलग बात है.

हर डांसर का अपना यूनिक स्टाइल होता है उस स्टाइल को बनाये रखना बहुत जरुरी होता है,आपका स्टाइल ही आपको यूनिक बनाता है। मेरा हमेशा मानना है कि जज को डांसिंग के सारे स्टाइल्स पता होने चाहिए.