गरीबी में बीता बचपन, आज इतनी संपत्ति के मालिक है इंडिया टीवी के अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा

इंडिया टीवी के अध्यक्ष और एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा का नाम आज देश के बड़े पत्रकारों में गिना जाता है। इंडिया टीवी पर आने वाला उनका शो ‘आप की अदालत’ टीवी न्यूज़ का सबसे लोकप्रिय शो में से एक है। रजत शर्मा का जीवन बड़ी ही गरीबी में गुजरा है। लेकिन अपनी मेहनत के दम पर रजत शर्मा ने आज पत्रकारिता जगत में बड़ा मुकाम हासिल किया है। तो चलिए आज जानते है रजत शर्मा के जीवनी और उनके जीवन से जुड़े दिलचस्प किस्सों के बारे में।

रजत शर्मा का जन्म

रजत शर्मा का जन्म 18 फ़रवरी 1957 को दिल्ली के सब्ज़ी मंडी क्षेत्र में हुआ था। रजत शर्मा का जन्म बेहद गरीब परिवार में हुआ था। वह 100 वर्गफीट के घर में अपने 6 भाई, एक बहन और माता-पिता के साथ रहते थे।

रजत शर्मा की शिक्षा

रजत शर्मा ने अपनी स्कूली शिक्षा सनातन धर्म मिडिल स्कूल से पूरी की है। रजत शर्मा के घर में बिजली का प्रबंध नहीं था, इसलिए रजत शर्मा सब्ज़ी मंडी रेलवे स्टेशन के लैंप पोस्ट की रौशनी में पढ़ाई करते थे। रजत शर्मा ने करोल बाग़ स्थित रामजस स्कूल से भी पढ़ाई की है।

इसके अलावा रजत शर्मा ने श्री राम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से स्नातक की पढ़ाई पूरी की है। देश के वितमंत्री रहे अरुण जेटली कॉलेज में रजत शर्मा के सीनियर हुआ करते थे। अरुण जेटली और रजत शर्मा के बीच अच्छी दोस्ती थी और अरुण जेटली कई बार रजत शर्मा की आर्थिक सहायता भी करते थे।

रजत शर्मा का करियर

 

रजत शर्मा ने अपने करियर की शुरुआत साल 1982 में पत्रिका ऑनलुकर में ट्रेनी रिपोर्टर के रूप में की। लेकिन अपनी काबिलियत के दम पर रजत शर्मा महज दो साल में ही ऑनलुकर के ‘चीफ़ ऑफ़ ब्यूरो’ बन गए और तीसरे साल संपादक बन गए। इसके बाद रजत शर्मा ने साल 1987 में ‘सन्डे ऑब्जर्वर’ के संपादक और साल 1989 में ‘द डेली’ के संपादक के रूप में काम किया।

आप की अदालत

रजत शर्मा के लोकप्रिय शो ‘आप की अदालत’ का पहला एपिसोड 14 मार्च 1993 को प्रसारित हुआ था। जल्द ही ‘आप की अदालत’ घर-घर में देखा जाने वाला शो बन गया। रजत शर्मा के शो में देश के बड़े नेता, फिल्म स्टार, खिलाड़ी, कारोबारी सहित अन्य लोग पहुंच चुके हैं। ‘आप की अदालत’ की 21वीं सालगिरह पर आयोजित कार्यक्रम में देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित खेल, फिल्म, कारोबार, राजनीति, समाज सेवा से जुड़े लोग मौजूद थे।

इंडिया टीवी की शुरुआत

रजत शर्मा ने अपने पत्रकार साथियों के साथ मिलकर साल 2004 में इंडिया टीवी की शुरुआत की थी। रजत शर्मा और उनके साथियों के प्रयासों की बदौलत इंडिया टीवी जल्द ही देश का प्रमुख न्यूज़ चैनल बन गया।

रजत शर्मा की पत्नी

रजत शर्मा की पत्नी का नाम रितु धवन है। रजत शर्मा ने साल 1997 में टीवी निर्माता रितु धवन से शादी की थी। रितु धवन स्वतंत्र समाचार सेवा की सह-स्थापक होने के साथ-साथ चैनल की सीईओ और प्रबंध निदेशक हैं। साल 2012 में रितु धवन को इम्पैक्ट की सबसे प्रभावशाली महिला के रूप में प्रस्तुत किया गया था।

रजत शर्मा को मिले पुरस्कार

पत्रकारिता के क्षेत्र में रजत शर्मा के योगदान को देखते हुए 23 अगस्त 2014 को उन्हें ‘तरुण क्रांति सम्मान’ से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा उन्हें भारत सरकार द्वारा ‘साहित्य और शिक्षा’ के क्षेत्र में ‘पद्म भूषण सम्मान’ से भी नवाजा गया है।

रजत शर्मा के बारे में दिलचस्प बातें

रजत शर्मा अक्सर बताते है कि बचपन में एक बार वह पड़ोसी के घर टीवी देखने गए थे, लेकिन पड़ोसी ने अंदर से दरवाजा लगा दिया। इस बात से दुखी होकर जब वह रोने लगे तो उनके पिताजी ने उनसे कहा था कि, ‘तुम किसी दूसरे आदमी को देखने तीसरे आदमी के घर जाते हो। हिम्मत है तो जीवन में कुछ ऐसा करो कि लोग तुम्हे टीवी पर देखे।’

बहुत कम लोगों को पता होगा कि रजत शर्मा जयप्रकाश नारायण के आन्दोलन से जुड़े हुए थे और आपातकाल के दौरान 11 महीने तिहाड़ जेल में भी रहे थे।

रजत शर्मा पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सक्रिय कार्यकर्ता भी रहे हैं। यही कारण है कि अक्सर उन पर भारतीय जनता पार्टी और उसके एजेंडों का समर्थन करने के आरोप लगते रहे हैं।

रजत शर्मा की सैलरी

रजत शर्मा देश में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले पत्रकारों में से एक है। एक न्यूज़ आर्टिकल के अनुसार रजत शर्मा हर महीने लगभग 2 करोड़ रुपए की कमाई करते हैं।