Home old अरविंद केजरीवाल की ये पुरानी तस्वीर शेयर कर कवि कुमार विश्वास ने...

अरविंद केजरीवाल की ये पुरानी तस्वीर शेयर कर कवि कुमार विश्वास ने अपनी कविता में बताया ‘डाकू-चोर’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सॉफ्ट हिंदुत्व कार्ड पर उनके पुराने साथी और प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास ने अपने अंदाज में कटाक्ष किया है। सोशल मीडिया पर एक यूजर द्वारा शेयर की गई पुरानी तस्वीर पर कुमार ने काव्यत्मक लहजे में तंज कसते हुए लोकतंत्र के सभी राजाओं को चोर कहा है।

रिटायर्ड विंग कमांडर अनुमा आचार्य नाम की यूजर ने 2012-13 की तस्वीर के साथ हाल ही की वह तस्वीर साझा की जिसमें वह कुर्ता पयजामा पहने दीवाली त्योहार में शरीक हुए थे।

उन्होंने लिखा कि 2012-13 और उसके बाद के 2-3 सालों तक जिस अरविंद केजरीवाल ने देश के सामान्य लोगों के अंदर राजनीति में बदलाव की जो उम्मीद जगाई थी, वो केजरीवाल कौन था? उन्होंने कुमार को टैग करते हुए पूछा ये कौन है?
उनके इस ट्वीट पर कुमार विश्वास ने कहा कि कोई सदियों छले नाम लेकर अपने परिवार का,कोई ताज़ा-ताज़ा छलिया राष्ट्रधर्म सरकार का, कोई सबको चोर बताकर खुद ही राहजनी पर है, कोई रखे धरनों का पर्दा अपने भ्रष्टाचार पर ! वाणी पर पहरे गर्दन पर चाक़ू हैं , लोकतंत्र के सारे राजा डाकू हैं !

बताते चलें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इन दिनों सॉफ्ट हिंदुत्व को लेकर चर्चा में हैं। दो दिवसीय दौरे पर गोवा पहुंचे आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक से जब सवाल पूछा गया कि क्या वह मंदिर जाकर ‘सॉफ्ट हिंदुत्व’ का संदेश दे रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘क्या आप मंदिर जाते हो? मैं भी मंदिर जाता हूं। मंदिर जाने में कोई बुराई नहीं है। जब आप यहां जाते हैं तो आपको शांति का अनुभव होता है। उनकी (सॉफ्ट हिंदुत्व का आरोप लगाने वालों को) आपत्ति क्या है? कोई आपत्ति क्यों होनी चाहिए? मैं मंदिर जाता हूं क्योंकि मैं हिंदू हूं। मेरी पत्नी गौरीशंकर मंदिर जाती हैं।’’

केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैं कहना चाहता हूं कि प्रमोद सावंत हमारी नकल कर रहे हैं। जब मैंने कहा कि हम बिजली मुफ्त देंगे, तो उन्होंने पानी मुफ्त दिया। जब मैंने कहा कि हम रोजगार भत्ता देंगे, तो उन्होंने लगभग 10,000 नौकरियों की घोषणा की, और जब मैंने तीर्थयात्रा के बारे में बात की, तो उन्होंने अपनी योजना की घोषणा की।’’

Previous articleअनिल देशमुख की गिरफ्तारी पर संजय राउत ने बोला मोदी सरकार पर तीखा हमला, कहा: ‘जेलों का भी निजीकरण हो…’
Next articleमोदी-योगी से लेकर आडवाणी-सोनिया गांधी तक जब ये दिग्गज नेता जनता के बीच फफक-फफककर रो पड़े थे