लौहार ने जुगाड़ से बनायी ऐसी गाड़ी की आनंद महिंद्रा भी रह गये हैरान, गिफ्ट में देंगे ये कीमती चीज…!

जब भी किसी की उपलब्धि या कड़ी मेहनत को तवज्जो देने और उसकी सराहना करने की बात आती है, तो महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा का व्यक्तित्व काफी उदार है।

कई बार, उन्होंने लोगों को महिंद्रा की कारों को प्रशंसा के प्रतीक के रूप में भेंट किया। इस लिस्ट में नया नाम महाराष्ट्र के देवराष्ट्र गांव के एक लोहार का जुड़ गया है जिनका नाम दत्तात्रेय लोहार है।’

लोहार ने स्क्रैप धातुओं का इस्तेमाल करके एक छोटा 4-व्हीलर बनाया है, ताकि यह दिखाया जा सके कि एक वाहन कैसे काम करता है। उसने जो वाहन बनाया वह क्रूड दिखता है लेकिन मशहूर जीप के डिजाइन से प्रभावित है, जिसने महिंद्रा को अपनी थार एसयूवी बनाने के लिए प्रेरित किया।

कार न्यूनतम कार्यक्षमता के साथ एक छोटी जीप की तरह दिखती है। लोहार इस वाहन का इस्तेमाल यात्रियों को लाने-ले जाने के लिए भी करते हैं।

लोहार ने बताया कि इस वाहन को बनाने में 60,000 रुपये का खर्च आया है। इसे दोपहिया वाहन की तरह किक-स्टार्ट के जरिए चालू किया जाता है। लेफ्ट-हैंड ड्राइव वाहन को पुराने और फेंक दिए गए कार के पार्ट्स के साथ बनाया गया है।

इस व्यक्ति के आविष्कार को दिखाते हुए 45 सेकंड के एक वीडियो ने आनंद महिंद्रा का ध्यान खींचा। और वे इस इनोवेटिव प्रोजेक्ट से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने इस आदमी को महिंद्रा बोलेरो तोहफे में देने की पेशकश की। आनंद महिंद्रा ने अपने सोशल अकाउंट से वीडियो को ट्वीट भी किया।

महिंद्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, “यह स्पष्ट रूप से किसी भी नियम से मेल नहीं खाता है, लेकिन मैं अपने लोगों की सरलता और ‘कम में ज्यादा’ क्षमताओं की तारीफ करना कभी बंद नहीं करूंगा। और गतिशीलता के लिए उनके जुनून और वाहन के फ्रंट ग्रिल का जिक्र तो क्या ही करूं।”

आनंद महिंद्रा ने यह भी कहा कि चूंकि वाहन नियमों का पालन नहीं करता है, स्थानीय अधिकारी इसे सड़कों पर चलने से रोकेंगे। लेकिन उस व्यक्ति को उसकी इनोवेटिव रचना के लिए पुरस्कृत करने के लिए, महिंद्रा समूह के अध्यक्ष व्यक्तिगत रूप से उसे इसके बदले में बोलेरो की पेशकश करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि वाहन को महिंद्रा रिसर्च वैली में दूसरों को प्रेरित करने के लिए प्रदर्शित किया जाएगा।