Home भारत लाइव डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता ने संबित पात्रा से राफेल पर पूछे...

लाइव डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता ने संबित पात्रा से राफेल पर पूछे ऐसे सवाल, लाजवाब हो गए बीजेपी नेता

आज तक की लाइव डिबेट में बीजेपी नेता संबित पात्रा और कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा के बीच तीखी बहस छिड़ गई। राफेल में हुए कथित घोटाले को लेकर कांग्रेस नेता मोदी सरकार के खिलाफ एक-एक कर अपने पॉइंट्स उंगलियों पर गिनाने लगे।

इस डिबेट को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस सेवा दल ने भी री-ट्वीट किया। साथ ही कैप्शन में लिखा- ‘CBI के पास दस्तावेज थे, तो जांच एजेंसियों ने क्यों नहीं जांच करी?

मोदी सरकार ने क्यों नो करप्शन क्लॉज हटाया, राफेल बिना टेंडर के ऊंचे दामों पर क्यों खरीदा? गोपनीय दस्तावेज कमीशन एजेंट के पास कैसे पहुंचे? मोदी जी जांच से क्यों भाग रहे हैं? सवालों का जवाब सुनिए पवन खेड़ा जी से-‘

डिबेट में संबित पात्रा पर बिफरते हुए पवन खे़ड़ा ने कहा- ‘संबित जी कह रहे हैं कि अटल जी की सरकार भ्रष्ट थी, क्योंकि 2000 से 2004 के बीच में करोड़ों रुपए सुशील गुप्ता को दिए गए थे। तो क्या आप संबित जी अटल जी को मरणोपरांत भ्रष्ट करार कर रहे हैं?’

पवन खेड़ा कहने लगे- ‘हम जेपीसी की मांग क्यों कर रहे हैं? क्योकि नो करप्शन क्लॉज यूपीए लाई थी इस डील में। हटाया किसने? स्वयं पीएम मोदी जी ने हस्तक्षेप करके बोला कि नो करप्शन क्लॉज हटाइए। मतलब, भ्रष्टाचार क्लॉज नहीं होना चाहिए इस क्लॉज को हटाइए।’

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा- ‘526 करोड़ का विमान हम खरीदने की बात कर रहे हैं, जिसको 1670 करोड़ में मोदी जी खरीद रहे हैं, वो भी बिना टेंडर के। हम तो टेंडर के साथ खरीद रहे थे। बिना टेंडर के मोदी जी विमान खरीदें, 526 की चीज 1670 करोड़ में खरीदें, नो करप्शन क्लॉज मोदी जी हटाएं, सौदा मोदी जी की सरकार करे और जांच हमारी हो? वाह इतना बड़ा लॉजिक ले आए आप साहब।’

संबित पात्रा से सवाल करते हुए पवन खेड़ा ने पूछा- ‘एनफॉर्समेंट डेरेक्टरेट ने 2019 में सुशेन गुप्ता पर रेड डाली थी उसमें जो कागज बरामद हुए उसका ब्योरा है न आपके पास? 2015 में जो इंडियन नेगोसिएशन टीम का जो आपसी वार्तालाप था, तब किसकी सरकार थी मोदी जी की।’

उन्होंने आगे कहा- ‘स्वर्गीय अरुण जेटली जी को यूरो फाइटर गोपनीय चिट्ठी लिखता है, वो सुशेन गुप्ता के यहां ईडी ने बरामद की। नरेंद्र मोदी की सरकार के होते हुए की। आज 9 नवंबर 2021 है, जांच कहां है?’

Previous articleलाइव टीवी डिबेट पर सपा नेता ने कांग्रेस और बीजेपी को बताया एक सिक्के के दो पहलू
Next articleउत्तर प्रदेश: चुनाव से पहले बनारस में अमित शाह लेंगे मास्टर क्लास, 700 से ज्यादा बीजेपी नेता शामिल होने की उम्मीद