मंच पर शिवराज सिंह ने की रोने की एक्टिंग, फिर कमलनाथ पर कसा तंज

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सीएम कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि वो हमेशा रोते ही रहते हैं। बकौल शिवराज, कमलनाथ हमेशा सरकार के पास पैसा न होने का रोना रोते थे।

खंडवा और देवास की एक जनसभा को संबोधित करते हुए शिवराज ने कहा, कमलनाथ कहते हैं कि वह उद्योगपति नहीं है, लेकिन अगर वह उद्योगपति नहीं है तो उनके पास अरबों की संपत्ति कहां से आ गई है। वह जब मुख्यमंत्री थे तो हमेशा पैसे न होने का रोना रोते थे। हमारे प्रदेश को ऐसे मुख्यमंत्री की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है।

शिवराज ने कहा, कांग्रेस पार्टी दिशाहीन और गतिहीन हो गई है। कांग्रेस पार्टी किस दिशा में जा रही है यह किसी को नहीं पता है। ऐसा लगता है कि जैसे राहुल गांधी की कांग्रेस अलग है और कमलनाथ की कांग्रेस अलग है। सबकुछ एक व्यक्ति के हाथों में सौंप दिया गया है। प्रदेश अध्यक्ष से लेकर नेता प्रतिपक्ष, सब कमलनाथ ही हैं। युवाओं को जगह देने के बजाय सब कुछ कमलनाथ को दिया जा रहा है।

शिवराज सिंह चौहान के इस बयान पर ट्विटर यूजर्स ने प्रतिक्रिया भी दी है। ललित बामला (@Lalit_Bamla) लिखते हैं, कमलनाथ के पास पैसे नहीं थे और इनके पास इतने पैसे थे कि इन्होंने सरकार खरीद ली। शिवा ने लिखा कि केंद्र सरकार भी तो यही कहती है न कि हमारे पास पैसा नहीं है। आप उनसे सवाल क्यों नहीं पूछते हैं?

कुलदीप सिंह ने लिखा कि आपके पास पैसे ज्यादा हैं यह तो जनता को तभी पता चल गया था जब मध्य प्रदेश में सरकार गिरी थी। बेचारे कमलनाथ रोएं नहीं तो क्या करें। हर्ष भट्ट लिखते हैं, यह मुख्यमंत्री जी साल भर केवल चुनाव प्रचार करते दिखाई देते हैं। यह भी थकते नहीं हैं। अनिल सिमन ने लिखा, उन्होंने आपके जैसे व्यापम कांड नहीं किया था।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश की चार विधानसभा सीटों के लिए 30 अक्टूबर को उपचुनाव होना हैं। प्रचार के लिए पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र पहुंचे शिवराज सिंह ने कमलनाथ को लेकर कहा कि, वह मुझ पर अक्सर नारियल फोड़ने का आरोप लगाते हैं।