मोहम्मद शमी की लगातार तीन गेंदों पर तीन विकेट, लेकिन फिर नहीं हैट्रिक

स्कॉटलैंड के खिलाफ आज अपना चौथा मुकाबला खेल रही टीम इंडिया ने स्कॉलैंड की पारी को सिर्फ 85 रन पर समेट दिया है. इस मैच में रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी ने 3-3 विकेट अपने नाम किए, जबकि जसप्रीत बुमराह ने 2 और रविचंद्रन अश्विन ने भी एक सफलता अपने नाम की.

इस दौरान मोहम्मद शमी के एक ओवर में लगातार 3 गेदों पर विकेट गिरीं लेकिन इसके बावजूद शमी के खाते में हैट्रिक नहीं जुड़ पाई.

स्कॉटलैंड की पारी का 17वां ओवर फेंकने आए मोहम्मद शमी के कोटे का यह तीसरा ओवर था. उन्होंने ओवर की पहली ही गेंद 16.1 ओवर- पर केलम मैकलियोड (16) बोल्ड कर दिया.

16.2 ओवर- ओवर की दूसरी गेंद पर साफयान शरीफ स्ट्राइक पर थे, शमी की यह गेंद एक बार फिर यॉर्कर थी और बल्लेबाज को कुछ समझ नहीं आया. यह गेंद उनके जूते पर लगी और मिड विकेट की ओर चली गई.

बल्लेबाज शरीफ यहां रन चुराने के लिए दौड़ पड़े, जबकि यहां रन नहीं था. टीम इंडिया अभी LBW की अपील मांग ही रही थी कि शरीफ क्रीज छोड़कर बहुत दूर निकल पड़े. ईशान किशन (सब्सीट्यूट फील्डर) ने मौका ताड़ते हुए स्टंप्स की ओर दौड़ लगाई. और उन्हें रन आउट कर दिया.

16.3 ओवर- इसके बाद ओवर की तीसरी गेंद खेलने के लिए एलेसडेर इवान्स क्रीज पर थे. शमी ने एक बार फिर परफेक्ट यॉर्कर फेंकी और नतीजा बल्लेबाज एक बार फिर बोल्ड. यह शमी के ओवर में लगातार तीसरी विकेट थी.

अगर ओवर की दूसरी गेंद पर अंपायर LBW की अपील को आउट करार दिया होता यह निश्चित तौर पर शमी के खाते में हैट्रिक हो जाती. लेकिन अंपायर ने यह अपील नकार दी थी और ईशान किशन ने रन आउट के रूप में टीम के खाते में विकेट डाल दिया था. ऐसे में भारतीय टीम ने भी उस निर्णय को रिव्यू करने का नहीं सोचा.

शमी आज बेहतरीन लय में थे. इससे पहले कप्तान विराट कोहली ने आज पावरप्ले के अंतिम ओवर में शमी को पहली बारी आजमाया था. यहां शमी ने ओवर की दूसरी ही गेंद पर जॉर्ज मंसी (24) को अपनी स्लोअर गेंद में फंसाकर अपना पहला शिकार बनाया.