Home भारत प्रियंका गांधी ने शेयर किया लखीमपुर हा’दसे का विडियो, पीएम मोदी से...

प्रियंका गांधी ने शेयर किया लखीमपुर हा’दसे का विडियो, पीएम मोदी से मांगा ये जवाब

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने लखीमपुर हा’दसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया है। उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो अपलोड कर पीएम मोदी से पूछा, नरेंद्र मोदी जी आपकी सरकार ने बग़ैर किसी ऑ’र्डर और FIR के मुझे पिछले 28 घंटे से हिरा’सत में रखा है। अन्नदाता को कुचल देने वाला ये व्यक्ति अब तक गि’रफ़्तार नहीं हुआ। क्यों?

प्रियंका गांधी ने जो वीडियो अपलोड किया है उसमें दिखा जा सकता है कि कार सवार व्यक्ति रोड पर खड़े लोगों को रौंदते हुए आगे बढ़ जाता है। बता दें कि लखीमपुर खीरी के तिकोनिया क्षेत्र में हुई हिं’सा में चार किसानों की मौ’त के मामले में सोमवार तड़के मौके पर जाते वक्त सीतापुर में हिरा’सत में ली गईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पी’ड़ित किसान परिवारों से मुलाकात के बगैर वापस नहीं जाने का ऐलान किया है।

कांग्रेस मुख्यालय से जारी एक बयान में दावा किया गया कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी के वकीलों को करीब 17 घंटे बाद भी उनसे मिलने नहीं दिया गया, यही नहीं प्रशासन ने उन्हें हिरा’सत में लेने की कोई का’नूनी वजह भी अब तक नहीं बतायी है।

एक बयान के अनुसार प्रियंका गांधी ने साफ कहा है कि वह हिरा’सत से छूटने के बाद लखीमपुर खीरी जाकर शहीद किसानों के परिजनों से मिलेंगी।

इसमें प्रियंका ने कहा कि प्रशासन ने मुआवजे की मांग तो मान ली है, लेकिन पूरे घटनाक्रम के मूल में मौजूद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा को अब तक बर्खा’स्त नहीं किया गया है, जो किसानों की सबसे बड़ी मांग है। प्रियंका गांधी से योगी प्रशासन लगातार अशालीन व्यवहार कर रहा है।

भाजपा सरकार किसानों को कु’चल’ने की राज’नीति कर रही है- प्रियंका गांधी

वहीं, उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि प्रियंका और कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र हुड्डा समेत कुछ वरिष्ठ नेता लखीमपुर खीरी जा रहे थे।

रास्ते में सीतापुर में तड़के करीब पांच बजे उन्हें हि’रा’सत में ले लिया गया और पीएसी परिसर भेज दिया गया। उन्होंने पुलि’सकर्मियों पर प्रियंका से धक्का-मुक्की का भी आ’रोप लगाया और कहा कि कांग्रेस महासचिव किसानों का द’र्द बांटने जा रही थीं और उन्हें इस तरह से रोका जाना अलोकतां’त्रिक है।

Previous articleपैगंबर मोहम्मद का विवादित कार्टून बनाने वाले लार्स विल्क्स भीषण सड़क हादसे में दर्दनाक मौत
Next articleजब शाहरुख़ खान ने अपने बेटे आर्यन को लेकर कहा था: ‘मैं चाहता हूँ मेरा बेटा सारे गलत काम करें…’