रुबिका लियाकत ने पीएम मोदी की ये फोटो शेयर कर लिखा, ‘थकान इनकी डिक्शनरी में नहीं..’ लोगों ने कहा: ‘अबे पागल चा’टूकार….’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को नए संसद भवन के निर्माण स्थल का दौरा किया और वहां चल रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया। नए संसद भवन का निर्माण अगले साल के आखिरी तक पूरा होने की संभावना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निर्माण कार्य का जायजा लिया और वहां काम कर रहे इंजीनियरों और मजदूरों से भी बातचीत की।

पीएम के इस औचक दौरे की तस्वीरें सोशल मीडिया पर छाई हुई हैं। सिर पर टोपी और हाथ में मास्क लिए उनकी तस्वीरों को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स में अलग-अलग राय देखने को मिल रही है।

कुछ यूजर्स इसे पीएम मोदी की कर्तव्यपरायणता से जोड़कर देख रहे हैं तो वहीं कुछ इसे पब्लिसिटी स्टंट करार दे रहे हैं। इतना ही नहीं, पीएम मोदी की इन तस्वीरों के साथ जवाहरलाल नेहरू की पुरानी तस्वीरें भी शेयर की जा रही हैं।

जब वह ऐसे ही भाखड़ा नांगल बांध का जायजा लेने के लिए पहुंच गए थे। वरिष्ठ पत्रकार दीपक शर्मा ने जवाहरलाल नेहरू की 1954 की तस्वीर साझा की गई है, जब वह भाखड़ा नांगल बांध के काम का जायजा लेने पहुंचे थे। दोनों तस्वीरों को एक फ्रेम में रखते हुए उन्होंने लिखा कि प्राथमिकताएं दर्शाती हैं भारत के प्रति आपका दृष्टिकोण।

टीवी कलाकार और FTII के पूर्व चेयरमेन गजेंद्र चौहान (@Gajjusay) ने तस्वीरों को साझा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की। उन्होंने लिखा कि 72 घंटों में पीएम मोदी ने नॉन स्टॉप फ्लाइट से यूएस पहुंचे, यूएसए सरकार और फॉर्च्यून 500 सीईओ के साथ 20 से ज्यादा बैठकें कीं।

यूएनजीए में हिस्सा लिया फिर भारत के लिए नॉनस्टॉप उड़ान लेते हुए वापस पहुंचे, दिल्ली में मंत्रियों के साथ बैठक की और फिर सेंट्रल विस्टा का जायजा लेने के लिए पहुंच गए।

वहीं आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने पीएम मोदी की इस विजिट को निशाने पर लिया। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल @SanjayAzadSln पर लिखा कि कोरोना की महामा’री में लोग म’र रहे थे मोदी जी रैली में व्यस्त थे।

10 महीने से किसान स’ड़कों पर ला’ठियां खा रहा है 700 से ज़्यादा किसानो की मौ’त हो चुकी है। उन्होंने कहा कि मोदी जी को आज तक अन्नदाताओं से मिलने की फुर्सत नही मिली, लेकिन जहाज़ से उतरकर तुरंत ड्रामा सीन देने पहुंच गए।

वहीं जानी मानी पत्रकार रुबिका लियाकत ने पीएम मोदी की फोटोज शेयर करते हुए लिखा कि, ‘आज ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश लौटे और रात लगभग 8:45 बजे बग़ैर किसी सूचना या security details के नए संसद भवन की site पर पहुँचे और लगभग एक घंटा बिताया… थकान इनकी dictionary में सच में नहीं है’

जैसे ही पत्रकार रुबिका लियाकत ने ये लिखा वैसे ही लोगों के कमेंट्स आने लगे और पत्रकार को नसीहत करने लगे. डॉ. मोनिका सिंह ने लिखा कि, ‘थकान के लिए क्या फावड़ा चला कर आये है अमेरिका में। कुछ तो शर्म कर लिए करो लिखने में’. आम आदमी पार्टी के नेता विजय फुलारा ने लिखा कि, ‘मतलब सिक्यूरिटी नहीं थी सिर्फ कैमरामैन था…ओके’