टी-20 वर्ल्ड कप: इस तरह सेमीफाइनल में पहुंचेगी टीम इंडिया, यहाँ समझिये कैसे टॉप-4 में जगह बनाएगी विराट सेना

अफगानिस्तान के खिलाफ भारत की 66 रनों की शानदार जीत ने टीम इंडिया के सेमीफाइनल में जगह बनाने की संभावनाओं को फिर से जिंदा कर दिया है। टी-20 वर्ल्ड कप में भारत अपने पहले दोनों मैचों में हार गया था। पहले पाकिस्तान और फिर न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को हराया। अब विराट की सेना ने बुधवार को अबू धाबी में अफगानिस्तान को हराकर शानदार वापसी की है।

इस जीत के साथ टीम इंडिया के नेट रन रेट में काफी सुधार हुआ है। पहले भारत का रन रेट-1.9 था, लेकिन अब सिर्फ एक बड़ी जीत के साथ उनका रन रेट +0.073 का हो गया है। भारत के ग्रुप में सबसे अच्छा रन रेट (+1.481) अफगानिस्तान का है।

इससे पहले आप अपना कैलकुलेटर निकालें और ये सोचना शुरू करें कि टीम इंडिया अब कैसे सेमीफाइनल में पहुंचेगी। आइए हम आपको बताते हैं कि भारत के पास सेमीफाइनल में पहुंचने के कितने चांस हैं।

भारत को पहले स्कॉटलैंड-नामीबिया को हराना होगा

सबसे पहले टीम इंडिया को स्कॉटलैंड और नामीबिया को बहुत बड़े अंतर से हराना होगा ताकि उनके और अफगानिस्तान के बीच के रन रेट के अंतर को कवर किया जा सके। ग्रुप में चार जीत और आठ अंकों के साथ पाकिस्तान तालिका में नंबर एक पर है और उसने पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना ली है।

बता दें, सुपर 12 के प्रत्येक ग्रुप से केवल टॉप दो टीमें ही सेमीफाइनल में जा पाएंगी। इस समय टीम इंडिया अपने ग्रुप में चौथे स्थान पर है।

अफगानिस्तान से करनी होगी न्यूजीलैंड के खिलाफ उम्मीद

टीम इंडिया को ये भी उम्मीद करनी होगी कि अफगानिस्तान न्यूजीलैंड को हरा दे। ऐसे में भारत के चांस सेमीफाइनल में पहुंचने के बढ़ जाएंगे। अफगानिस्तान ऐसा कर भी सकती है। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ शानदार खेल दिखाया था।

न्यूजीलैंड अगर हारती है तो उनके और टीम इंडिया के 6 अंक हो जाएंगे। इस स्थिति में सबसे बेहतरीन नेट रन रेट वाली टीम सेमीफाइनल में पहुंच जाएगी।

अगर अफगानिस्तान न्यूजीलैंड को हराने में कामयाब होता है तो जो चीज भारत के पक्ष में जाएगी वह यह है कि नामीबिया के खिलाफ भारत के मैच के दौरान उन्हें पता होगा कि सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए नामीबिया को किस अंतर से हराना है।

वहीं, अगर पाकिस्तान ने स्कॉटलैंड को बड़े अंतर से हरा दिया और न्यूजीलैंड ने अफगानिस्तान को मात दे दी। इस स्थिति में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड क्वालीफाई करेंगे और भारत वापस मुंबई के लिए उड़ान भरेगा।