शिवपाल यादव को बताया बीजेपी की बी टीम, तो नेताजी ने पत्रकार को दिया ये करारा जवाब

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने एक टीवी इंटरव्यू के दौरान यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव पर चर्चा की। यहां उनसे पूछा गया कि क्या उनकी पार्टी भाजपा की टीम बी है। इससे बिफरे शिवपाल ने कहा, इस तरीके की बात वही करते हैं जिन्होंने हमारे बीच लड़ाई कराई।

द लल्लनटॉप के पत्रकार ने उनसे पूछा था कि ‘आपका आरोप है कि सपा सरकार में जो काम सौ रुपए में हो जाते थे वही काम योगी सरकार में 10 हजार रुपए देकर किया जाता है? झूठी रिपोर्ट हटवाने के लिए 50 हजार से 1 लाख तक लिए जा रहे हैं।’

शिवपाल ने कहा, सपा सरकार और इस सरकार में बहुत अंतर है। इस पर उनसे पूछा गया कि क्या अब ज्यादा रुपया खर्च करके काम कराया जाता है?

इस पर शिवपाल ने कहा, मैंने योगी आदित्यनाथ से कहा है कि इस तरह की परंपराएं खत्म होनी चाहिए। अगर कोई खुशी से पैसा देता है तो वह अलग बात है। जब खुशी से पैसा दे दिया जाता है तो काम भी जल्दी हो जाता है नहीं तो फाइल दबी रहती है।

उनसे पूछा गया कि समाजवादी पार्टी के आपके पुराने साथी कहते हैं, शिवपाल यादव बीजेपी की बी – टीम हैं । इस पर उन्होंने कहा, जब लोकसभा का चुनाव हुआ था। मैं चाहता था कि समाजवादी पार्टी मेरे साथ मिलकर चुनाव लड़े। मैंने चुनाव में एक भी सीट नहीं मांगी थी। मैंने सिर्फ इतना चाहा था कि परिवार एक हो जाए।

शिवपाल यादव ने कहा कि इस तरह की बात वही लोग कर रहे हैं जिन्होंने हमारे और अखिलेश यादव के बीच विघटन कराया था।

गौरतलब है कि यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर शिवपाल यादव ने कई बार कहा है, हमारी प्राथमिकता है कि हम समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़े। दूसरी तरफ अखिलेश यादव ने अभी तक इसको लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं किया है।