सुबह स्नान के समय करें मात्र एक मन्त्र का जाप, होगी धन की वर्षा

loading...

नई दिल्ली. हर किसी को बता है की हमारे शास्त्रों में ऐसे कई प्रकार के पूजन विधि का वर्णन किया गया है जिसकी सहायता से जीवन में आने वाली कई कठिनाइयों का उपचार किया जा सकता है। अक्सर लोगों को उन उपायों और पूजन विधि के बारे में नही पता होता है। लेकिन आज हम आप को एक ऐसी पूजन विधि के बारें में बता रहे है जिसके पालन के बाद आप को धन लाभ होगा। हिन्दू धर्म में स्नान का बहुत ही महत्व है स्नान तो हम रोज करते है लेकिन हम सब उन उपायों को नहीं जानते है जिनसे धन लाभ होते है।

नहाने के पानी का ये प्राचीन उपाय करने से दूर हो सकती है दरिद्रता । नहाने से स्वास्थ्य लाभ और पवित्रता मिलती है। सभी प्रकार के पूजन कर्म आदि नहाने के बाद ही किए जाते हैं, इस कारण स्नान का काफी अधिक महत्व है।

पुराने समय में सभी ऋषि-मुनि नदी में नहाते समय सूर्य को जल अर्पित करते थे और मंत्रों का जप करते थे। इस प्रकार के उपायों से अक्षय पुण्य मिलता है और पाप नष्ट होते हैं।
ज्योतिष में धन संबंधी परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए कई उपाय बताए गए हैं, जो अलग-अलग समय परकिए जाते हैं। नहाते समय करने के लिए एक उपाय बताया गया है। इस उपाय को सही विधि से हर रोज किया जाए तो निकट भविष्य में सकारात्मक फल प्राप्त हो सकते हैं।

प्रतिदिन नहाने से पहले बाल्टी में पानी भरें और इसके बाद अपनी तर्जनी उंगली (इंडेक्स फिंगर) से पानी पर त्रिभुज का चिह्न बनाएं।

त्रिभुज बनाने के बाद एक अक्षर का बीज मंत्र ‘ह्रीं’ उसी चिह्न के बीच वाले स्थान पर लिखें। साथ ही, अपने इष्ट देवी-देवता से परेशानियों दूर करने की प्रार्थना करें।

शास्त्रों में दिन के सभी आवश्यक कार्यों के लिए अलग-अलग मंत्र बताए गए हैं। नहाते समय भी हमें मंत्र जप करना चाहिए।
स्नान करते समय किसी मंत्र का पाठ किया जा सकता है या कीर्तन या भजन या भगवान का नाम लिया जा सकता है। ऐसा करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।

loading...