Home टेक्नोलॉजी WhatsApp की नई पॉलिसी एक्सेप्ट न करने पर ये फीचर्स काम करना...

WhatsApp की नई पॉलिसी एक्सेप्ट न करने पर ये फीचर्स काम करना कर देंगे बंद

WhatsApp की नई पॉलिसी अपडेट को एक्सेप्ट करने के लिए फिलहाल यूज़र्स के पास अब कुछ समय बचा है। नई पॉलिसी 15 मई से लागू होने जा रही है और ये Facebook के साथ यूज़र डेटा साझा करने पर फोकस करती है। पिछले कुछ महीनों से इस नई पॉलिसी को लेकर यूज़र्स के मन में चिंता और आक्रोश दोनों देखने को मिल रहे हैं। कंपनी ने अपनी वेबसाइट के FAQ सेक्शन में भी अपडेट की गई पॉलिसी को लगा दिया है। अब, मुख्य सवाल यह उठता है कि यदि यूज़र्स ने इस प्राइवेसी पॉलिसी (WhatsApp Privacy Policy) को नहीं अपनाया, तो उनके साथ क्या होगा? क्या उनके अकाउंट स्थाई रूप से बंद हो जाएंगे? यूज़र्स के मन में कई सवाल हैं, इसलिए हमने आपकी कुछ चिंताओं को दूर करने का प्रयास किया है।

WhatsApp की FAQ माइक्रोसाइट में साफ शब्दों में लिखा है कि “इस अपडेट की वजह से 15 मई को किसी भी यूज़र का WhatsApp अकाउंट डिलीट नहीं किया जाएगा और न ही किसी का अकाउंट काम करना बंद करेगा। हम पिछले कई हफ्तों से व्हाट्सऐप पर एक नोटिफिकेशन दिखा रहे हैं, जिसमें इस अपडेट के बारे में ज़्यादा जानकारी दी गई है। हमने सभी यूज़र्स को यह अपडेट पढ़ने के लिए काफी समय दिया है। अब हम उन लोगों को फिर से याद दिला रहे हैं, जिन्होंने अभी तक इसे पढ़कर स्वीकार नहीं किया है। कुछ हफ्तों बाद यूज़र्स को रिमाइंडर लगातार मिलने लगेगा।”

रिमाइंडर को लेकर व्हाट्सऐप ने आगे साफ किया है कि “अगर आप तब तक अपडेट की गई शर्तों और प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार नहीं करते, तो आप WhatsApp के कुछ फीचर्स का सीमित इस्तेमाल कर पाएंगे।” इससे पता चलता है कि नई पॉलिसी स्वीकार न करने पर यूज़र्स के अकाउंट बंद या डिलीट नहीं किए जाएंगे, बल्कि कुछ फीचर्स के उपयोग को सीमित कर दिया जाएगा।

नई पॉलिसी को स्वीकार न करने पर यूज़र्स अपनी चैट लिस्ट नहीं देख पाएंगे, लेकिन इनकमिंग वॉयस कॉल और वीडियो कॉल का जवाब दे सकेंगे। हालांकि यदि यूज़र ने WhatsApp नोटिफिकेशन ऑन किया है, तो वह आने वाले व्हाट्सऐप नोटिफिकेशन्स पर टैप करके मैसेज पढ़ सकेगा, या मैसेज का जवाब दे सकेगा। इसके अलावा यूज़र मिस्ड वॉयस कॉल या वीडियो कॉल के नोटिफिकेशन पर टैप करके वॉयस या वीडियो कॉल करने में सक्षम होगा।

हालांकि, WhatsApp ने साफ शब्दों में चेतावनी दी है कि कुछ हफ्तों तक इन सीमित फीचर्स का इस्तेमाल करने के बाद, इनकमिंग कॉल्स व नोटिफिकेशन मिलने बंद हो जाएंगे और यूज़र न तो आप WhatsApp पर मैसेज भेज पाएगा और न ही कॉल कर पाएगा। साथ ही यह भी बताया गया है कि इनएक्टिव अकाउंट्स पर पर भी मौजूदा प्राइवेसी पॉलिसी लागू होगी।

बता दें कि पहले भी व्हाट्सऐप अपनी साफाई में कह चुका है कि इस अपडेट पॉलिसी से यूज़र्स की प्राइवेसी पर कोई सेंध नहीं रहेगी। चैट पहले की तरह एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड रहेगी और WhatsApp व Facebook यूज़र्स द्वारा भेजे मैसेज, मीडिया कंटेंट, वॉयस कॉल और वीडियो कॉल को एक्सेस नहीं करेंगे।