Home old योगी सरकार ने बदला फैज़ाबाद रेलवे स्टेशन का नाम, अब इस नाम...

योगी सरकार ने बदला फैज़ाबाद रेलवे स्टेशन का नाम, अब इस नाम से जाना जायेगा

यूपी में फैजाबाद रेलवे स्टेशन का नाम बदल दिया गया है। अब इसका नाम अयोध्या कैंट कर दिया गया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी। कार्यालय ने बताया कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ये फैसला किया है कि फैजाबाद जंक्शन का नाम अब अयोध्या कैंट होगा।

बता दें कि इससे पहले फैजाबाद जिले का नाम बदला गया था। फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या किया गया था। अब फैजाबाद रेलवे स्टेशन के नाम को भी बदला गया है। यूपी सरकार पहले भी कई जगहों का नाम बदल चुकी है। चंदौली जिले के मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय रखा गया था।

इसके अलावा वाराणसी के मंडुवाडीह स्टेशन का नाम बदलकर बनारस स्टेशन, इलाहाबाद जंक्शन का नाम बदलकर प्रयागराज जंक्शन, इलाहाबाद सिटी स्टेशन का प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिवकी का प्रयागराज छिवकी और प्रयागराज घाट का प्रयागराज संगम किया गया था।

आने वाले चुनावों के दौर में इसे योगी सरकार का बड़ा फैसला माना जा रहा है। इस बारे में अयोध्या से सांसद लल्लू सिंह का बयान भी सामने आया है। उन्होंने कहा कि हमने रेलमंत्री से बात की थी और फैजाबाद स्टेशन का नाम अयोध्या कैंट करने की मांग की थी।

कहा जा रहा है कि नाम बदलने के बाद अयोध्या कैंट स्टेशन का सौंदर्यीकरण तेजी से होगा और नई ट्रेनों को चलाए जाने की भी मांग की जाएगी। ऐसा होने से श्रद्धालुओं को अयोध्या पहुंचने में आसानी होगी और वह आराम से भगवान राम के दर्शन कर सकेंगे।

बता दें कि हालही में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस व सपा की पिछली सरकारों पर बरसते हुए कहा था कि जो राम का द्रोही होगा वो आपका हितैषी कभी नहीं हो सकता। ऐसे लोगों को पहचानने की जरूरत है। अपने पूर्वजों, आराध्य देवो को स्मरण करने की जरूरत है।

पहले भारत में 2004 से लेकर 2014 तक किस प्रकार की सरकारें थीं, उनका एक ही उद्देश्य होता था। जैसे भी हो भारत की आस्था पर प्रहार करना। भारत के विकास को बाधित करना। उनका क्रम बढ़ता चला गया।

शनिवार को भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि सम्मेलन’ की श्रृंखला में विश्वकर्मा समाज के प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि पूरे समाज में जाकर जागरूक करिए। उन्हें बताइये कि हितैषी कौन है?

जो देश का हितैषी होगा वही प्रदेश का हितैषी होगा। योगी ने कहा कि सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाएं। हम वर्तमान के साथ भविष्य को भी सुरक्षित करने की योजना को लेकर आगे बढ़ रहे हैं।

Previous articleशाहरुख़ खान की बेटी सुहाना खान के लिए आया शादी का पैगाम, लोगों ने ऐसे लिए मजे
Next articleकांग्रेस ने ममता बनर्जी पर की ये टिप्पणी तो तेजस्वी की पार्टी ने लगाई ये जोरदार फटकार